PM Kisan 14th Kist TodayPMKSY Latest Update 2023ताज़ा

हो गया कंफर्म, इस दिन किसानों को मिलेंगे किस्त के 2,000 रुपये, जानें ताजा अपडेट

PMKSY Latest Update 2023: हो गया कंफर्म, इस दिन किसानों को मिलेंगे किस्त के 2,000 रुपये, जानें ताजा अपडेट

PMKSY Latest Update 2023: देशभर के पीएम किसान योजना के लाभार्थी किसानों ( Farmer ) को 13वीं किस्त का इंतजार है. अब जल्द ही उनका इंतजार खत्म हो सकता है। केंद्र सरकार अब तक पीएम किसान योजना ( PM Kisan Yojana ) की 12 किस्तें जारी कर चुकी है। इस संबंध में लाभार्थी किसानों के खातों में 24 हजार रुपये की राशि ट्रांसफर कर दी गई है। अब पीएम किसान सम्मान निधि योजना ( PM Kisan Samman Nidhi Yojana ) की 13वीं किस्त मिलते ही 2000 रुपए किसानों के खाते में ट्रांसफर कर दिए जाएंगे।

पीएम किसान 14 किस्त कि तारीख देखने केलिए

👇🏻👇🏻👇🏻

याह क्लिक करें

पीएम किसान योजना के तहत पंजीकृत किसानों ( Farmer ) के खाते में हर साल 3 किस्तें ट्रांसफर की जाती हैं, ये किस्तें हर चार महीने के अंतराल पर किसानों के खाते में पहुंचती हैं । पीएम किसान योजना ( PM Kisan Yojana ) की 11वीं किस्त 31 मई 2022 को ट्रांसफर की गई थी, इसके बाद 17 अक्टूबर 2022 को योजना की 12वीं किस्त ट्रांसफर की गई थी। इस लिहाज से चार महीने के अंतराल के बाद पीएम किसान सम्मान निधि योजना ( PM Kisan Samman Nidhi Yojana ) की 13वीं किस्त अब ट्रांसफर की जा सकती है। फरवरी के प्रथम सप्ताह में तबादला

इन किसानों को नहीं मिलेगा लाभ (PM Farmer Scheme 2023)

अक्टूबर, 2022 में जब पीएम किसान योजना ( PM Kisan Yojana ) की 12वीं किस्त जारी हुई तो करीब 2 करोड़ किसानों ( Farmer ) को इसका लाभ नहीं मिला. जानकारी के अनुसार इन किसानों के खाते में पीएम किसान सम्मान निधि योजना ( PM Kisan Samman Nidhi Yojana ) पंजीयन फॉर्म में कुछ त्रुटियां पाई गईं.

बस 10 मिनट में मिलेगा 5 लाख का लोन, ऐसे करना होगा आवेदन

पीएम किसान योजना 2023

वहीं जिन किसानों ( Farmer ) ने अभी तक अपने पीएम-किसान खाते की केवाईसी नहीं कराई है, उन्हें भी इस पीएम किसान योजना ( PM Kisan Yojana ) का लाभ नहीं मिल पाएगा। सरकार ने हाल ही में पीएम किसान सम्मान निधि योजना ( PM Kisan Samman Nidhi Yojana ) को लेकर कुछ बड़े बदलाव किए हैं, जिसके तहत अब किसानों के जमीन के रिकॉर्ड की पुष्टि की जानी चाहिए। इसके अलावा, किसानों के बैंक खाते को आधार से जोड़ा जाना चाहिए और इसे भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम से जोड़ा जाना चाहिए ।

अगर आप PM Kisan Yojana 13वीं किस्त चूक गए हैं तो आपके पास एक और मौका है

पीएम किसान सम्मान निधि योजना ( PM Kisan Samman Nidhi Yojana ) के पात्र किसानों के लिए एक बार फिर मौका आया है. ई-केवाईसी 15 जनवरी तक करने को कहा गया था, जिससे आगामी किश्त के अटकने की आशंका है। हर गांव में 76,579 किसानों की सूची भी चस्पा की गई थी, लेकिन 3100 किसानों ने ही पीएम किसान योजना ( PM Kisan Yojana ) केवायसी प्रक्रिया पूरी की है. ऐसे में अभी भी 73,479 किसान ( Farmer ) ऐसे हैं जिनका पैसा फंस सकता है !

बेरोजगारी भत्ता 2023 के लिए ऑनलाइन आवेदन शुरू, घर बैठे पाएं ₹4500, यहां देखें पूरा विवरण

यह है ई-केवाईसी की प्रक्रिया (PM-Kisan Yojana Farmer Good News)

  • वेबसाइट pmkisan.gov.in है। पीएम किसान सम्मान निधि योजना ( PM Kisan Samman Nidhi Yojana ) ई-केवाईसी के लिए
  • लोक सेवा केंद्र, मोबाइल के माध्यम से प्रक्रिया की जा सकती है। लोक सेवा केंद्र पर 15 रुपये शुल्क लिया जाएगा
  • इसके लिए पीएम किसान योजना ( PM Kisan Yojana ) पोर्टल पर ई-केवाईसी विकल्प को एक्सेस करें।
  • बायोमेट्रिक सत्यापन के लिए फिंगर विकल्प का चयन करें
  • कैप्चा के बाद पंजीकृत आधार संख्या दर्ज करें
  • बायोमेट्रिक मशीन पर आधार पंजीकृत मोबाइल नंबर और फिंगरप्रिंट दर्ज करें।
  • उपसंचालक कृषि पुरुषोत्तम कुमार मिश्र ने बताया कि 31 जनवरी तक किसान ई-केवाईसी, आधार सीडिंग का कार्य करा लें, नहीं तो
  • सम्मान निधि अटक जाएगी. 12वीं किस्त में 2.44 लाख किसानों ( Farmer ) के खातों में 48 करोड़ रुपये जमा किए गए।

अब आप 31 जनवरी तक आवेदन कर सकते हैं (PM Kisan Samman Nidhi Yojana)

कृषि विभाग ने किसानों को 31 जनवरी तक का मौका दिया है। वे ई-केवाईसी और आधार सीडिंग की प्रक्रिया करा लें । पीएम किसान सम्मान निधि योजना ( PM Kisan Samman Nidhi Yojana ) की 13वीं किस्त आने वाली है, जिसकी अभी कोई तारीख तय नहीं हुई है. कयास लगाए जा रहे हैं कि पीएम किसान योजना ( PM Kisan Yojana ) में 13वीं किश्त 26 जनवरी के बाद आएगी। कृषि विभाग ने भौतिक सत्यापन कर किसानों की सूची तैयार की थी, जिसे दिसंबर माह में सार्वजनिक स्थलों पर चस्पा कर दिया गया था। किसानों को प्रेरित भी किया जा रहा था, लेकिन किसान ( Farmer ) जागरूक नहीं हो रहे हैं ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button